छोटका पत्रकार मुखिया समाचार

बिहार की सभी पंचायतों में जल्द ही होगा किसान चौपाल का आयोजन

पटना: बिहार सरकार 2020-21 में राज्य की सभी पंचायतों में किसान चौपाल आयोजित करने जा रही है। इस कार्यक्रम में कृषि वैज्ञानिकों व विशेषज्ञों के माध्यम से किसानों को कृषि से संबंधित नवीन तकनीकों की जानकारी दी जाएगी। साथ ही, किसानों को किसान हित समूह, खाद्य सुरक्षा समूह तथा किसान उत्पादन संगठन के निर्माण की जानकारी उपलब्ध कराते हुए उत्पादन से लेकर विपणन तक में आने वाली समस्याओं का समाधान भी किया जायेगा।

सरकार के अनुसार किसान चौपाल के जरिये किसानों की समस्याओं से अवगत होने का मौका मिलेगा। किसानों की समस्याओं को जानने के बाद उनके समाधान के लिए प्रयास किया जाएगा। सरकार ने किसान चौपाल के आयोजन के लिए राज्य योजना मद से 924.55 लाख रुपये की स्वीकृति प्रदान कर दी है। इसके अलावा कृषि विभाग के संबंधित अधिकारियों को सभी आवश्यक तैयारियाँ पूरी करने के निर्देश दिये गए हैं।

किसान चौपाल के आयोजन के संबंध में कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने बताया है कि, “एक अगस्त से पंद्रह अगस्त तक किसान चौपाल का आयोजन किए जाने की संभावना है। यदि कोरोना संक्रमण नियंत्रण में हो जायेगा तो किसान चौपाल का आयोजन पूर्व की भाँति किसान, वैज्ञानिक एवं पदाधिकारीगण एक साथ बैठकर करेंगे। अन्यथा इसका आयोजन डिजीटल माध्यम से किया जायेगा, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह से पालन किया जायेगा। किसान चौपाल के माध्यम से किसानों को अपने गाँव और पंचायत में खेती-बाड़ी की अद्यतन जानकारी के साथ-साथ कृषि से जुड़े अन्य क्षेत्रों के बारे में भी विशेषज्ञों द्वारा आवश्यक ज्ञान दिया जाता है।”

कृषि मंत्री ने यह भी कहा कि, “किसान चौपाल के आयोजन से राज्य में फसलों के उत्पादन एवं उत्पादकता में वृद्धि होगी, इससे किसानों की आमदनी भी बढ़ेगी। यह किसानों के लिए बहुत उपयोगी कार्यक्रम है। किसान चौपाल में भाग लेकर किसान, पदाधिकारी एवं प्रसारकर्मी आपस में भावनात्मक रूप से जुड़ते हैं। इसके माध्यम से किसानों को कृषि के अलावे पशुपालन, मत्स्य एवं सहकारिता विभाग द्वारा संचालित योजनाओं व कार्यक्रमों की भी जानकारी उपलब्ध कराई जाती है तथा इन विषयों पर राज्य के किसानों से सुझाव भी प्राप्त किये जाते हैं।”

Related posts

Leave a Comment