कृषि पिटारा

बिहार सरकार की सामूहिक नलकूप योजना, किसानों को मिलेगी बंपर सब्सिडी

पटना: देश के किसानों को अक्सर सिंचाई के दौरान कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसमें सूखा से लेकर अतिवृष्टि जैसी समस्याएँ आम तौर पर देखने को मिलती हैं। किसानों के हित में सिंचाई से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए बिहार सरकार ने एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। दरअसल, बिहार सरकार ने सिंचाई की समस्या से छुटकारा दिलाने के लिए “सामूहिक नलकूप योजना” की शुरुआत की है।

बाढ़ का सामना करने वाले जिलों के लिए राहत की बात

बिहार, जहां आधे से अधिक जिले हर साल बाढ़ के प्रभाव में रहते हैं, वहाँ बरसात के दौरान यह एक विकट समस्या का रूप ले लेती है। इसके परिणामस्वरूप, कई जिलों में किसानों की फसलें बर्बाद हो रही हैं जबकि कुछ जिलों में पानी की कमी का सामना करना पड़ रहा है। इस स्थिति में, बिहार सरकार ने छोटे और सीमांत क्षेत्रों के किसानों के लिए सामूहिक नलकूप योजना की शुरुआत की है, जिससे इन किसानों को सस्ते में पानी पहुंचाने का उपाय मिल सकता है।

सामूहिक नलकूप योजना का उद्देश्य

इस योजना के अंतर्गत, कम से कम दो किसान मिलकर अपने खेतों में सामूहिक नलकूप लगवा सकते हैं। इसके लिए किसानों के पास कम से कम आधा एकड़ जमीन होनी चाहिए। यह योजना न केवल बोरिंग की सुविधा प्रदान करेगी, बल्कि साथ ही मिनी स्प्रिंकलर भी उपलब्ध कराएगी। इससे किसान अपने खेतों को समय-समय पर सिंचाई कर अपने उत्पादन में वृद्धि कर सकते हैं।

बंपर सब्सिडी के साथ किसानों को मिलेगी राहत

इस योजना के तहत, सरकार ने सामूहिक नलकूप लगाने वाले किसानों को इकाई लागत पर 80 प्रतिशत सब्सिडी देने का फैसला किया है। इससे बिहार के किसान समूह बना सकते हैं और इस योजना से उन्हें सस्ते में पानी मिल सकता है।

ऑनलाइन आवेदन की सुविधा

इच्छुक किसान इस योजना व इससे जुड़ी सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। कृषि विभाग की वेबसाइट पर जाकर वे आवेदन कर सकते हैं। सब्सिडी का फायदा उठाने वाले समूहों को उद्यान निदेशालय की वेबसाइट जाकर आवेदन कर सकते हैं। बिहार सरकार की इस पहल से किसानों को नलकूप लगवाने में सहायता मिलेगी। साथ ही, उन्हें सस्ते में पानी पहुंचाने का एक नया और क्रियाशील उपाय मिलेगा।

Related posts

Leave a Comment