दरभंगा सक्सेस पिटारा

दरभंगा की बेटी तिष्या को मिला अटल मिथिला सम्मान

अटला सम्मान का गौरव प्राप्त करने वाली तिष्या की पुस्तक ड्रीम ब्रिजेज सक्सेस का लोकार्पण गत वर्ष 29 अक्टूबर को गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने राजभवन में की थी। इस पुस्तक का हर एक पन्ना युवाओं के लिए सकारात्मक संदेश भरा है। पुस्तक के माध्यम से निराश युवाओं को सफलता का मंत्र दिया गया है। युवाओं में साहस, धैर्य सकारात्मक सोच एवं उत्साह का संचार करने का पूरा प्रयास किया गया है। कुल मिलाकर यह पुस्तक युवाओं को नई राह दिखाने वाला बताया गया है। आवाज काउंसिल ऑफ इंडिया की ओर से तिष्या को नवोदित प्रतिभा अवार्ड से सम्मानित किया गया है। कम उम्र में युवाओं के लिए उत्साह एवं संचार का प्रेरणास्रोत बनने पर उन्हें यह सम्मान दिया गया है।

दरभंगा : दुनिया के लोगों की सोच को सकारात्मक दिशा देने के उद्देश्य दरभंगा की बेटी तिष्या श्री को लिखित पुस्तक ड्रीम ब्रिजेज सक्सेस ने नई पहचान दी है। दिल्ली में तिष्या को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के हाथों अटल मिथिला सम्मान से नवाजा गया। हिंदी पोस्ट मीडिया की ओर इस समारोह आयोजित किया गया था। बहुमुखी प्रतिभा के धनी 19 वर्षीय तिष्या को समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के हाथों पाग चादर एवं मोमेंटो से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि सांसद प्रभात झा, यूएइ के एनएमसी ग्रुप के सीएमडी पद्मश्री डॉ बीआर सेठी, सुप्रसिद्ध गायक पद्म भूषण उदित नारायण झा, सुप्रसिद्ध गायिका अलका याग्निक सहित कई लोग ने इस समारोह में मौजूद थे।

नेपाल मेडिकल कॉलेज की छात्रा तिष्याश्री अल्लपट्टी निवासी डॉ सुभाष चंद्र सिंह एवं सुचित्रा सुमन की पुत्री है। तिष्या की अभिरुचि संगीत एवं लेखन में है। उन्होंने बताया कि सामाजिक समस्याओं पर केंद्रित विशेष रूप से अनाथ बच्चों पर फोकस, उनकी दूसरी पुस्तक की रचना पर काम चल रहा है। कोई आश्चर्य नहीं है कि बहुमुखी प्रतिभा की धनी नवोदित लेखिका अपनी नवीन रचना के माध्यम से एक और नया संदेश दे जाए, उनकी इस सफलता से मिथिला में हर्ष का माहौल है। मिथिला के लिए यह गौरव की बात कही जा रही है।

Related posts

Leave a Comment