छोटका पत्रकार मुखिया समाचार

इस योजना के जरिये असंगठित क्षेत्र में कार्य कर रहे लोगों को मिल रही है वित्तीय सुरक्षा, ऐसे उठाएँ लाभ

नई दिल्ली: अटल पेंशन योजना असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए काफी फायदेमंद है। यह एक ऐसी सामाजिक सुरक्षा स्कीम है जिसमें निवेश करने से रिटायरमेंट के बाद के खर्च करने के लिए आपको नियमित रूप से आय प्राप्ति होगी। इस योजना की शुरुआत मई 2015 में हुई थी। आपको बता दें कि इससे पहले असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए इस तरह की कोई योजना नहीं थी।

अटल पेंशन योजना की सबसे खास बात ये है कि इसमें आपके निवेश के साथ ही सरकार भी अपनी ओर से भी अंशदान देती है। यही नहीं अगर निवेशक की असामयिक मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को योजना का लाभ मिलना जारी रहता है। इस पेंशन योजना के तहत 60 साल की उम्र से आपको कम से कम 1,000 रुपये और अधिकतम 5,000 रुपये की मासिक पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी।

हाँ, अन्य सभी पेंशन योजनाओं की तरह इसकी भी कुछ शर्तें हैं। मसलन –

ऐसे लोग जो आयकर के दायरे में आते हैं, या सरकारी कर्मचारी हैं या फिर पहले से ही ईपीफ व ईपीएस जैसी योजनाओं का लाभ ले रहे हैं, उन्हें अटल पेंशन योजना का लाभ नहीं मिल सकेगा।

योजना का लाभ उठाने के लिए आपकी उम्र 18 से 40 साल के बीच होनी चहिए। साथ ही पेंशन पाने के लिए आपको कम से कम 20 साल तक निवेश करना होगा।

इस पेंशन योजना में कोई भी भारतीय निवेश शुरू कर सकता है। हाँ इसके लिए आपके पास बैंक खाता होना आवश्यक है।

अटल पेंशन योजना के तहत खाता खोलने के लिए आपको निम्न चरणों से होकर गुजरना होगा:

  • बैंक शाखा/पोस्ट ऑफिस जहाँ आपका बचत बैंक है को संपर्क करें या यदि खाता नही है तो नया बचत खाता खोलें।
  • बैंक/डाकघर बचत बैंक खाता संख्या उपलब्ध कराएँ और बैंक कर्मचारियों की मदद से एपीवाई पंजीकरण फार्म भरें।
  • आधार/मोबाइल नंबर उपलब्ध कराएँ। यह अनिवार्य नहीं है, लेकिन योगदान के बारे में संचार की सुविधा के लिए आप इन्हें दे सकते हैं।
  • मासिक/तिमाही/छमाही योगदान के हस्तांतरण के लिए बचत बैंक खाता/डाकघर बचत बैंक खाते में आवश्यक राशि रखना सुनिश्चित करें।

अटल पेंशन योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप वेबसाईट https://npscra.nsdl.co.in पर जा सकते हैं या फिर टोल फ्री नंबर 1800-110-069 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

Related posts

Leave a Comment