छोटका पत्रकार मुखिया समाचार

केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, अब 30 सितंबर तक ले सकते हैं मुफ्त एलपीजी सिलिंडर

नई दिल्ली: कोरोना संकट के दौरान गरीब परिवारों को राहत देने के लिए केंद्र सरकार ने एक महत्वपूर्ण घोषणा की है। इसके अनुसार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत जनता को दिए जाने वाले मुफ्त गैस सिलिंडर की अवधि को आगामी तीन महीनों तक के लिए बढ़ा दिया गया है। इस स्थिति में अब 30 सितंबर 2020 तक मुफ्त गैस सिलेंडर प्राप्त किए जा सकेंगे। यह बदलाव 1 जुलाई से लागू होकर प्रभावी माना जाएगा।

केंद्र सरकार ने इस साल मार्च में कोरोना महामारी के बीच गरीब परिवारों को राहत देने के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की थी। इसके तहत प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (PMUY) को लेकर भी बड़ा कदम उठाया गया। जिसके तहत अगले तीन महीनों तक (अप्रैल से जून) मुफ्त गैस सिलिंडर देने का एलान किया गया था। लेकिन केंद्र सरकार के हालिया फैसले से अब उज्जवला योजना के लाभार्थी अगले तीन महीनों तक तीसरा एलपीजी सिलिंडर ले सकेंगे। तेल कंपनियों ने सभी गैस एजेंसियों को इस संबंध में नोटिफिकेशन भेज दिया है। सरकार की इस घोषणा से देश के लगभग 8 करोड़ परिवारों को लाभ होगा।

जिन लोगों ने अपना तीन सिलेंडर जून तक नहीं लिया, वो अब सितंबर तक तीन निशुल्क सिलेंडर ले सकेंगे। कई लोगों ने पहला और दूसरा सिलेंडर लिया, लेकिन किसी कारणवश तीसरा सिलेंडर अब तक नहीं ले पाए हैं। ऐसे में तीसरा सिलेंडर लेने की जो अवधि जून में खत्म होनी थी, वो अब सितंबर में होगी।

केंद्र सरकार द्वारा लिए गए इस फैसले की जानकारी देते हुए केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि, “उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को मुफ्त रसोई गैस सिलिंडर का लाभ 1 जुलाई 2020 से अगले तीन महीने तक भी मिलता रहेगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का मकसद इस महामारी के दौर में गरीब और असहाय लोगों को सुरक्षा के दायरे में लाना और मदद पहुँचाना है।”

बताते चलें कि, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत केंद्र सरकार के द्वारा बीपीएल परिवारों को एलपीजी कनैक्शन मुहैया करवाया जाता है। योजना की शुरुआत 1 मई 2016 को उत्तर प्रदेश के बलिया में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा की गई थी। यह योजना पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के सहयोग से चलाई जा रही है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना का लाभ उन परिवारों को मिलता है जो 2011 की जनगणना के अनुसार बीपीएल परिवार के दायरे में आते हैं।

Related posts

Leave a Comment