कृषि पिटारा मुखिया समाचार

कृषि के जरिये अगर आप अपनी आमदनी बढ़ाना चाहते हैं तो अपनाएँ ये उपाय

नई दिल्ली: आज के समय में हर किसान अपनी आमदनी बढ़ाना चाहता है। इसके लिए सरकार भी कई प्रकार से किसानों को प्रोत्साहित कर रही है। अगर आप भी एक किसान हैं और कृषि को फायदे का सौदा बनाना चाहते हैं तो आपको कृषि की पारंपरिक गतिविधियों के साथ-साथ कुछ अन्य गतिविधियों का भी सहारा लेना होगा। यदि आपके पास एक या दो बीघा ज़मीन है तो आप उसमें व्यावसायिक दृष्टि से अच्छा लाभ देने वाले पेड़ जैसे शीशम या सागौन लगा सकते हैं। व्यवस्थित तरीके से की गई इस खेती से 8-10 साल बाद आप लाखों की कमाई कर सकते हैं। जैसा कि आप जानते ही हैं शीशम का एक पेड़ औसतन 40000 में बिक ही जाता है।

शादियों व पार्टियों से लेकर पूजा-पाठ तक में फूलों की डिमांड लगभग हमेशा ही रहती है। आप कहीं भी थोड़ी सी जमीन लीज पर लेकर फूलों की खेती कर सकते हैं। कई ऑनलाइन वेबसाइट्स से संपर्क कर आप सीधे अपने फूल बेच सकते हैं। सूरजमुखी, गुलाब, गेंदे की खेती आज के समय में फायदे से भरी हुई है।

शहद निकालने के लिए मधुमक्खी पालने का व्यावसाय काफी पुराना है लेकिन वक्त के साथ अब इसने पेशेवर रूप ले लिया है। आप 1 से डेढ़ लाख में थोड़े साधनों के साथ यह काम शुरू कर सकते हैं। हां, इसके लिए आपको ट्रेनिंग की जरूरत होगी। लेकिन यह व्यवसाय आपको काफी अच्छा मुनाफा देगा।

आप चाहें तो दूध का कारोबार भी शुरू कर सकते हैं। आपको एक अच्छी गाय 30 हजार तक की कीमत में और एक ठीक-ठाक भैंस 50-60 हजार रुपए में मिल सकती है। आप एक या दो पशुओं के साथ अपना कारोबार शुरू कर सकते हैं। आप दूध की बिक्री के लिए कंपनियों से भी संपर्क कर सकते हैं या फिर लोकल स्तर पर ही दूध बेच सकते हैं।

उपरोक्त बिन्दुओं पर अमल कर आप न केवल अपनी आमदनी को बढ़ा सकते हैं बल्कि इन क्रियाओं के जरिये आपको कृषि कार्यों में कई प्रकार से सहायता प्राप्त हो सकती है। मसलन, यदि आप जैविक कृषि करने वाले किसान हैं तो पशुपालन के जरिये आपको जैविक उर्वरकों के उत्पादन में काफी सहूलियत मिल सकती है।

Related posts

Leave a Comment