कृषि पिटारा मुखिया समाचार

लाल मिर्च के भंडारण के दौरान रखें इन बातों का ध्यान

नई दिल्ली: भारत में बनने वाले अधिकांश व्यंजनों में मिर्च का प्रयोग किया जाता है। इसलिए बाजार में मिर्च की मांग लगभग पूरे साल एक जैसी बनी रहती है। इस लिहाज से मिर्च की खेती किसानों को बढ़िया मुनाफा दिलाती है। विशेष रूप से लाल मिर्च की खेती। अगर आप भी लाल मिर्च की खेती शुरू करने का मन बना रहे हैं तो बेहतर होगा कि पहले आप यह पता करें कि आपके क्षेत्र की जलवायु व मिट्टी लाल मिर्च की खेती के लिए उपयुक्त है या नहीं। इसके बाद खेत की अच्छी तरह से तैयारी शुरू करें। फिर लाल मिर्च की किसी उन्नत किस्म का चुनाव करें। बेहतर होगा कि आप इसमें अपने नजदीकी जिला उद्यानिकी विभाग की मदद लें। यहाँ से आपको लाल मिर्च की खेती से जुड़ी विस्तृत जानकारी बड़ी आसानी से मिल जाएगी।

आपको बता दें कि लाल मिर्च की फसल तैयार होने के बाद उसकी तुड़ाई व तुड़ाई के बाद प्रबंधन एक बहुत ही महत्वपूर्ण प्रक्रिया है। इस दौरान कुछ महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर विशेष ध्यान देना चाहिए अन्यथा काफी पैदावार बर्बाद हो जाती है।

लाल मिर्च की तुड़ाई ज्यादातर दिसंबर से मार्च तक होती है तथा इसकी आपूर्ति फरवरी से अप्रैल तक चरम पर होती है।

लाल मिर्च की तुड़ाई हमेशा सुबह के समय करनी चाहिए। बारिश या बारिश के बाद लाल मिर्च की तुड़ाई से परहेज करना चाहिए।

तुड़ाई के समय फलों के डंठल को मजबूती से पकड़ कर ऊपर के तरफ खींचना चाहिए। इससे फलों को टूटने से बचाया जा सकता है।

अगर आप सूखी लाल मिर्च के लिए तुड़ाई कर रहे हैं तो यह ध्यान रखें कि फल अधिक परिपक्व न हों।

किसी भी दशा में लाल मिर्च की तुड़ाई में देरी नहीं करें, क्योंकि इससे मिर्च की गुणवत्ता कम हो जाती है।

तोड़े हुए फलों को छायादार स्थान पर इकट्ठा कर 2 से 3 दिनों के लिए रख देने से अधपके फल पक जाते हैं और सभी फल एकसमान रंग हो जाते हैं। इसलिए तुड़ाई के बाद लाल मिर्च को छाया में ज़रूर रखें।

लाल मिर्च को पकने के लिए 220 डिग्री C से 250 डिग्री C तापमान सबसे अच्छा होता है। प्रत्यक्ष धूप से लाल मिर्च को बचाना चाहिए क्योंकि इससे फलों पर सफेद दाग आ जाते हैं।

पके हुए फलों को धूप में साफ-सुथरी जगह पर पॉलिथीन शीट्स या पक्के सतह पर सुखाना चाहिए। इससे मिर्च की गुणवत्ता बनी रहती है।

भंडारण के समय लाल मिर्च को एक पतले परत में फैला देना चाहिए, इससे मिर्च में फफूंद नहीं लगती है।

अगर आप मिर्च का भण्डारण लम्बे समय तक करना चाहते हैं तो उसे कोल्ड स्टोरेज में रखें। क्योंकि इससे मिर्च का रंग और तीखापन बरकरार रहता है।

Related posts

Leave a Comment